Skip to main content

एक पूर्ण गाइड : जानिये कैसे संस्थाये फॉरेक्स 2018-19 में धोखाधड़ी को रोकने में मदद करता है l


फॉरेक्स मार्केट में ट्रेडिंग करना एक ऐसा व्यापार है जो दुनिया में सबसे बडे (यानी आखिरी) और अधिक पैमाने में किया जाने वाला  अनियमित/अनियंत्रित कैपिटल (पूंजी)बाजारों (मार्केट्स)में से एक है। हैरानी की बात है कि फॉरेक्स मार्केट का कोई  भौतिक (फिजिकल) पता ठिकाना नहीं है जैसा की स्टॉक या कमोडिटी एक्सचेंज का होता है और यहाँ सोमवार से शुक्रवार तक 24 घंटे रात दिन ट्रेडिंग होता है।

और आगे भी, जबतक की आप करेंसी वायदा (फ्यूचर्स) या ऑप्शन्स ( विकल्प) शिकागो मर्केंटाइल एक्सचेंज पर या करेंसी ऑप्शन्स फ़िलेडैल्फ़िया ऑप्शन्स एक्सचेंज पर  ट्रेडिंग नहीं करते, तब तक सभी फॉरेन एक्सचेंज ट्रेडिंग के बड़े हिस्से/भाग का व्यवहार टेलीफोन और इलेक्ट्रॉनिक कम्युनिकेशन्स (संचार) नेटवर्क या ECNs पर पूरी तरह से विकेन्द्रीकृत (डीसेंट्रलाइज्ड) तरीके से ही होता है।

फॉरेक्स मार्केट में  बड़े पैमाने में और मात्रा में ट्रेडिंग होने के बावजूद भी, यह बहुत बड़े पैमाने में अनियंत्रित है किसी भी अंतरराष्ट्रीय संगठन या एजेंसी  की देख रेख के बिना इंटरबैंक में ट्रेडिंग की गतिविधियाँ चल रहीं है और पूरी दुनिया में फ़ैली है।

क्या इसका अनियमित/अनियंत्रित होना ट्रेडर्स के लिए ऐसा है की वें (ट्रेडर्स) उन रणनीतियों की संख्या से लाभ उठाएं जिन्हें अब अन्य अधिक उच्चतर विनियमित बाजारों जैसे की स्टॉक और कमोडिटी मार्केट्स में लागू नहीं किया जा सकता है।


फिर भी ,  फॉरेक्स मार्केट का यह अपेक्षाकृत अनियमित /अनियंत्रित प्रकृति (नेचर)  होना भारी संख्या में फॉरेक्स  घोटालों और धोखाधड़ी के  लिए उपजाऊ जमीन तैयार करता है जिन्हें कई देशों में कुछ संगठन उजागर करने और मुकदमा चलाने के लिए प्रतिबद्ध है।

एक्टिव (सक्रिय) फॉरेक्स रेगुलेटरी (नियामक) एजेंसीज 

फोरेक्स मार्केट पर अभी तक किसीभी तरह की केंद्रीकृत मुख्य संस्था का कोई अंकुश नहीं है। जब कि कुछ देशों में फोरेक्स के व्यापार के लिए और खास तौर पर फोरेक्स ब्रोकर्स के लिए  कड़े नियम बनाए गए हैं।उनके पास ऐसी भी संस्थाएं है जो उनके देश में बिज़नेस करनेवाली कंपनियों को नियंत्रित करतीं है।

इन विनियमन (रेगुलेटिंग) संस्थाओं ने अपनी सीमाओं के भीतर  धोखाधड़ी के अनेक मामलों में मुकदमें चलाए है और दंड दिलवाया है /सजा दिलवाई है, इनमें से सबसे प्रमुख फोरेक्स में धोखाधड़ी का पर्दाफाश होने वाली संस्थाएं (एजेंसीज)   United States में उत्पन्न हुईं।

U. S. कमोडिटी फ्यूचर्स ट्रेडिंग कमीशन -

CFTC  एक स्वतंत्र अमेरिकी सरकारी एजेंसी है जो अमेरिका स्थित और अमेरिका मैं व्यापार करनेवाली  फॉरेक्स ब्रोकरेज कंपनियों की देखरेख करती है। इसके अलावा अमरीका के कमोडिटी (वस्तु) और फ्यूचर्स (वायदा) बाजार के आदान-प्रदान का विनियमन करती है,  फोरेक्स मार्केट में  धोखाधड़ी (कपटपूर्ण) की गतिविधियां करनेवाली कंपनियों पर यह एजेंसी अपने द्वारा बनाएं गए नियमों को लागू करना और कानूनी कार्यवाही करना और सजा दिलवाना यह काम भी करती है.

U. S.  (अमेरिका) नेशनल फ्यूचर्स एसोसिएशन -

NFA (नेशनल फ्यूचर्स एसोसिएशन यह एक खुद विनियमन संस्था है अमरीका के फ्यूचर्स (वायदा)उद्योग जगत में।। NFA का मुख्य लक्ष्य अमरीकी मार्केट की अखंडता को बनाएं रखना और निवेशकों को धोखाधड़ी की गतिविधियों से बचाना हैं। मूल रूप से, क्योंकि स्पॉट करेंसी के लेनदेन के लिए दो दिनों का समय लगता है डिलीवरी (वितरण) के लिए बजाय कॅश के, इसे फ्यूचर कॉन्ट्रैक्ट के तौर पर भी देखा जा सकता है।। नतीजतन, ब्रोकर्स को फोरेक्स मार्केट में क्लाइंट्स के लिए  लेनदेन करने के लिए कमोडिटी ट्रेडिंग एडवाइजर , फ्यूचर्स कमीशन मर्चेंट, इंट्रोड्यूसिंग ब्रोकर या  कमोडिटी पूल ओपरेटर के तौर पर एक या ज्यादा अमरीकी एजेंसीज के साथ  अमरीकी ग्राहकों के लिए फोरेक्स मुद्रा के लेनदेन को निष्पादित करने के लिए  रजिस्टर्ड करवाना अनिवार्य है।

दूसरे देशों की रेगुलेटिंग (विनियमन) संस्थाए


U. K.  फिनांशल सर्विसेस अथॉरिटी --

FSA यह एक यूनाइटेड किंगडम के आर्थिक सेवा उद्योग जगत की प्रधान रेगुलेटर है और बहुत कुछ U. S. CFTC की तरह ही, अपने नियम U. K. के आर्थिक सेवा उद्योग जगत में लागू करती है और उन नियमों को तोड़ने पर और धोखाधड़ी के बर्ताव पर कानूनी कार्यवाही करती है और सजा भी दिलवाती है।

ऑस्ट्रेलियन सिक्योरिटीज एंड इन्वेस्टमेंट कमीशन --

ASIC यह एक ऑस्ट्रेलियन संस्करण है  दोनों का CFTC और ब्रिटिश FSA का। यह आयोग नियंत्रित करता है ऑस्ट्रेलियन कैपिटल मार्केट, निगमों और आर्थिक सेवाओं को। ASIC दोनों नियामक प्राधिकरणों को CFTC और उसकी U. S. सिक्योरिटीज समकक्ष, द सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज कमीशन या SEC का मिलाजुला रूप है।


स्विस पोलीरेग --

यह स्व नियामक बॉडी है U. S. के NFA की तरह।। यह संस्था जानी जाती है स्विस फ़ेडरल मनी लॉन्ड्रिंग कंट्रोल अथॉरिटी के तहत जो नियंत्रण करती है लोगों को, व्यापार को, और कानूनी संस्थाएं जो आर्थिक मध्यस्थ की तरह काम करती है स्विट्ज़रलैंड में रहनेवालों (अधिवास )के लिए।


स्विस फ़ेडरल डिपार्टमेंट ऑफ फाइनांस (या फिनांस)--

यह स्विस गवर्नमेंट एजेंसी है जो नियंत्रण और देखरेख करती है आर्थिक संस्थानों की स्विट्जरलैंड में।

उपरोक्त नियामक एजेंसियों के अतिरिक्त,  यूरोपियन संघ प्रत्येक सदस्य को  अपने वित्तीय बाजारों के विनियमन के लिए जिम्मेदार मानता है, जो वित्तीय साधनों के निर्देश में  E.U.'s के बाजारों के या MiFID अनुरूप है। यह "पासपोर्ट" विनियमित कंपनियों को अनुमति देता है  एक E. U. सदस्य देश को दूसरे E. U. सदस्य देश के ग्राहकों को सेवा देने की।

विनियमन और फोरेक्स ब्रोकर्स

एक फोरेक्स ब्रोकर जो रजिस्टर्ड और अच्छी स्थिति (साख)बनाए हुए हो NFA, CFTC या ऊपर जिन विनियमन एजेंसीज का उल्लेख किया गया है या इसीतरह का  समान संगठन दूसरे E. U. देश में भी है यह एक सकारात्मक संकेत है।

यह ये दर्शाता है कि ब्रोकर काफी समय से व्यापार कर रहा है और अगर कंपनी किसी मुश्किल में होगी या कोई विवाद सामने आता है तो कुछ हद तक कानूनी सहारा मिल सकता है।

जगह की और विनियमन एजेंसीज की परवाह किये बिना, अच्छी तरह से नियंत्रित जगहों  पर जैसे कि स्विट्जरलैंड या अमेरिका में भी फोरेक्स मार्केट में धोखाधड़ी हो सकती है। कुछ कंपनियां यह बताती है के वें मूल रूप से विनियमित देश से है लेकिन सच्चाई यह होती है कि इन कंपनियों का मूल अधिवास कहीं ओर का होता है।

जबकि कुछ तरह के नियंत्रण ने कुछ रकम का फोरेक्स फ्रॉड (धोखाधड़ी) रोक रखा है, जहाँ पैसा घूमता है उस जगह धोखाधड़ी होना यह जिंदगी की एक सच्चाई है और फोरेक्स मार्केट इसके लिए अपवाद नहीं है। ट्रेडिंग करने के लिए किसीभी ब्रोकर का चुनाव करने से पहले  सावधानता पूर्वक अनुसंधान (रिसर्च) करके आश्वस्त बनिए।

GET FRESH CONTENT DELIVERED BY E-MAIL


Whatsapp : +91 9619011227

Comments